विज्ञान भैरव
सीखें गहन ध्यान की तकनीकें
15 th जून | 10:00 AM IST

विज्ञान भैरव क्या है?

विज्ञान भैरव - गुरुदेव श्री श्री रविशंकर जी के साथ एक गहन ध्यान कार्यक्रम है|

विज्ञान भैरव एक उल्लेखनीय प्राचीन ग्रंथ है, जो गुरु के मार्गदर्शन में, गहरे ध्यान के अनुभवों के लिए दरवाजे खोल सकता है। यह पाठ उत्तम अवस्था में रहने के गूढ़ तरीकों के विषय में बताता है| यह तंत्र आंतरिक जागृति का मार्ग प्रशस्त करता है|

विश्वशांति दूत और आध्यात्मिक गुरु, गुरुदेव श्री श्री रविशंकर जी ने विश्व भर में कई बार धर्मग्रंथों की गूढ़ ध्यान की तकनीकों पर व्याख्यान दिया है | विज्ञान भैरव पर गुरुदेव के व्याख्यानों से अलग-अलग धर्म और पृष्ठभूमि के हज़ारों लोग लाभान्वित हुए हैं। अब, आप विज्ञान भैरव तंत्र पर गुरुदेव के रिकॉर्ड किए गए प्रवचन का लाभ उठा सकते हैं|

गुरुदेव के मार्गदर्शन में विज्ञान भैरव के रहस्यों को स्पष्ट रूप से समझने के लिए अभी रजिस्टर करें !

इस कार्यक्रम के लाभ

  • प्रसन्नता में बढ़ोतरी
  • जागरूकता और ध्यान केंद्रित करने में बढ़ोतरी
  • तीक्षण बुद्धि
  • समभाव में बढ़ोतरी
  • मन तथा कर्म में स्पष्टता
  • निर्णय लेने की क्षमता में बढ़ोतरी
  • गतिशीलता
  • स्वभाव में लचीलापन

पैकेज

200 $
  • सभी वीडियो 30 दिनों के लिए उपलब्ध रहेंगे

Registration confirmation will come to you mail

प्रशंसा के कुछ शब्द

प्रायः पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न: मैं यह कार्यक्रम कितनी अवधि तक देख सकता हूँ?

उत्तर: कार्यक्रम शुरू होने कि तिथि के पहले रजिस्ट्रेशन करने पर कार्यक्रम शुरू होने कि तिथि से 30 दिन तक विडीयो उपलब्ध रहेंगे। कार्यक्रम शुरू होने कि तिथि के बाद रजिस्ट्रेशन करने पर रजिस्ट्रेशन कि तिथि से 30 दिन तक विडीयो उपलब्ध रहेंगे।

प्रश्न: विज्ञान भैरव क्या है?

उत्तर: विज्ञान भैरव एक गूढ़ ग्रंथ है जिसमें भगवान शिव देवी पार्वती के साथ उच्च चेतना शक्ति को प्राप्त करने के लिए उपयोग में आने वाली कई तकनीकों को साझा करते हैं। परम पूज्य गुरुदेव श्री श्री रविशंकर इन तकनीकों पर प्रकाश डालते हैं और एकदम सरल तरीके से इस गूढ़ ज्ञान को हम से साझा करते हैं।

प्रश्न: मुझे इस कार्यक्रम में भाग क्यूँ लेना चाहिए?

उत्तर: विज्ञान भैरव का प्राचीन पाठ ध्यान की तकनीकों की व्याख्या करता है, जिसके लिए एक सदगुरु का मार्गदर्शन होना अति आवश्यक है। गुरुदेव श्री श्री रविशंकर इन युगों पुरानी तकनीक को हमें सरल और सहज ढंग से समझाते हैं। यह पहली बार है कि इस प्रवचन को ऑनलाइन दिखाया जाएगा और दुनिया में कहीं भी इसे देखा जा सकता है।

प्रश्न: इस कार्यक्रम को करने से हमें क्या लाभ होगा?

उत्तर: इस कार्यक्रम में सिखाये जाने वाली ध्यान की तकनीकों से आप ख़ुद में अत्यधिक प्रसन्नता, तीक्ष्ण बुद्धि, मन तथा कर्म में स्पष्टता का गहन अनुभव कर सकेंगे।

प्रश्न: क्या इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए कोई कोर्स करना ज़रूरी है?

उत्तर: नहीं

प्रश्न:मैंने अभी ध्यान करना शुरू किया है, क्या मैं भी इस कार्यक्रम का हिस्सा बन सकता हूँ?

उत्तर: हाँ

प्रश्न: क्या इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए कोई आयु सीमा है?

उत्तर: हाँ, केवल 18 साल के ऊपर के लोग ही इस कार्यक्रम का हिस्सा बन सकते हैं।

किसी भी प्रश्न और जानकारी के लिए आप हमें live@artofliving.org पर ई-मैल कर सकते हैं